Saturday 23 September 2017 at 12:15 pm
Kanpur News

कानपुर उर्सला आईसीयू को शासन नहीं देगा पैसा

उर्सला की सघन चिकित्सा यूनिट (आईसीयू)

September 23, 2017
By Kanpur-Reporter
kanpur ursala icu
  1 views
कानपुर। शनिवार 23 सितम्बर 2017 कानपुर। उर्सला की सघन चिकित्सा यूनिट (आईसीयू) पर बंदी का ग्रहण लग गया है। दरअसल शासन ने इसके संचालन के लिए सालाना बजट देने से इनकार कर दिया है। शासन का तर्क है कि उनके रिकार्ड में आईसीयू का नामोनिशान नहीं है। यह पूरी तरह से अवैध है। बजट न मिलने से आईसीयू में भर्ती होने वाले मरीजों को बाहर से दवाएं मंगानी पड़ रही हैं। साल 2010-11 में बसपा शासनकाल में तत्कालीन स्वास्य मंत्री अनंत कुमार मिश्रा के निर्देश पर उर्सला इमरजेंसी के प्रथम तल में 12 बिस्तर क्षमता का आईसीयू बनाया गया। जिसमें छह वेंटीलेटर भी दिये गये। पहली बार आईसीयू संचालन के लिए 25 लाख रुपये बजट भी रिलीज हुआ था। बाद में स्वास्य विभाग का कार्यभार बाबू सिंह कुशवाहा को सौंपे जाने से आईसीयू के बुरे दिन शुरू हो गये।

स्वास्य महकमे के रिकार्ड में आईसीयू का अतापता नहीं : उर्सला के निदेशक डा. उमाकांत ने बताया, रिकार्ड में उर्सला का आईसीयू शामिल नही है। शासन ने इसे अवैध करार दिया है। वहीं इसके संचालन के लिए बजट देने से मना कर दिया है। आरडीसी के बजट से बनाया गया था : अस्पताल के अधिकारियों के मुताबिक तत्कालीन स्वास्य मंत्री के निर्देश पर रीजनल डायग्नोस्टिक सेंटर के बजट से उर्सला में आईसीयू का निर्माण किया गया। इसे सरकारी रिकार्ड में शामिल करने से पहले मंत्री बदल गये और काम लटक गया।
बाहर से मंगायी जाती हैं दवाएं : आईसीयू में भर्ती होने वाले गंभीर मरीजों से बाहर से दवाएं मंगायी जाती हैं। वीआईपी के केस में लोकल परचेज के मद से दवाएं मुहैया करायी जाती हैं। अस्पताल में दवा के मद में सालाना बजट ढाई करोड़ रुपये मिलता है, जबकि जरुरत छह करोड़ रुपये की है। इस वित्तीय वर्ष में अगस्त माह में केवल सवा करोड़ रुपये बजट मिला है। इससे दवाओं का संकट खड़ा हो गया है। टेक्नीशियन हटाये गये : शासन ने आईसीयू को अवैध बताकर बीते दिनों इसमें ठेके पर तैनात चार टेक्नीशियन की सेवाएं समाप्त कर दी हैं। इससे वेंटीलेटर के संचालन में दिक्कत आने लगी है। पहले से मौजूद नियमित टेक्शीशियन से अतिरिक्त सेवाएं ली जा रही हैं।
उर्सला में दवा वितरण का नहीं मिला रिकॉर्ड

उर्सला में मरीजों की जान से खिलवाड़
नब्ज' टटोलने पर 'बीमार' मिला उर्सला

1 views
Used tags: , , , ,

News Posted On Facebook

Yeh Hai Kanpur

Business News

kanpur Dehat News

Kanpur News in Urdu