Thursday 21 September 2017 at 10:17 pm
Kanpur News

कानपुर के लाल ने किया कमाल,आस्ट्रेलिया के खिलाफ मारी हैट्रिक

कानपुर के युवा स्पिनर कुलदीप यादव

September 21, 2017
By Kanpur-Reporter
  1 views
कानपुर के युवा स्पिनर कुलदीप यादव ने गुरुवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक लेकर इतिहास बना दिया। इससे पहले यह कारनामा इंडिया के लिए सिर्फ दो ही गेंदबाजों ने किया है। कुलदीप इंडिया के महज तीसरे व यूपी के पहले गेंदबाज हैं, जिन्होंने वनडे क्रिकेट में हैट्रिक ली है। इससे पहले सिर्फ चेतन शर्मा (1987) और कपिल देव (1991) ही वनडे में हैट्रिक जमा चुके हैं। कुलदीप के इस कारनामे के बाद कानपुर में उनके माता-पिता की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। कुलदीप का परिवार।

कपिल क्लब में शामिल हुअा अपना कुलदीप भारत के लिए चेतन शर्मा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ, जबकि कपिल देव ने श्रीलंका के खिलाफ यह करिश्मा किया था। कुलदीप ने 32.2 ओवर में मैथ्यू वेड, 32.3 ओवर में एस्टन एगर व 32.4 ओवर में पैट कमिंस को आउट कर इतिहास रचा। अभी तक पूरे विश्व से 39 गेंदबाज इस करिश्मे को अंजाम दे चुके हैं। जिसमें श्रीलंका के पेसर लसिथ मलिंगा ने सबसे ज्यादा 3 बार तो पाकिस्तान के वसीम अकरम, आकिब जावेद और सकलेन मुश्ताक ने 2-2 बार यह करिश्मा किया है। कुलदीप के पिता राम सिंह यादव ने कहा कि कुलदीप ने आज शहर का नाम रोशन किया है। उसने अपने चयन को आज सही साबित किया है।

ऑस्ट्रेलिया सीरीज से पहले किया कड़ा अभ्यास
कुलदीप यादव के कोच कपिल देव पांडे के मुताबिक, कुलदीप ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के लिए खास तैयारी की थी। उसे पता था कि अगर यहां उसका प्रदर्शन अच्छा रहता है, तो टीम में उसकी जगह पर्मानेंट बन सकती है। इसी के मद्देनजर उसने आस्ट्रेलियाई टीम के हर खिलाड़ी के खिलाफ रणनीति तैयार की थी। खुद कपिल देव पांडे को यकीन नहीं हो रहा कि उनके शिष्य ने इतनी जल्दी इंटरनेशनल क्रिकेट में हैट्रिक लेने का कारनामा कर दिखाया। हिन्दुस्तान से बातचीत में ंउन्होंने कहा कि कुलदीप लगातार अच्छी गेंदबाजी कर रहा था। पता था कि वो सफल होगा, लेकिन हैट्रिक की उम्मीद नहीं थी। आस्ट्रेलिया सीरीज के लिए रवाना होने से पहले उसने रोवर्स मैदान पर काफी मेहनत की थी। मैंने उसे लाइन लेंथ सही रखने को कहा था। खासतौर पर ग्लेन मैक्सवेल को लेकर वो थोड़ा परेशान था तो उसे यही सलाह दी थी कि गेंद को उससे दूर रखने की कोशिश करना। मैक्सवेल के खिलाफ राउंड द विकेट गेंदबाजी करने को भी कहा था, लेकिन उसने मैच की स्थिति के अनुसार गेंदबाजी की। उसे गेंद को ग्रिप करने में भी दिक्कत आ रही थी, लेकिन अब उसे देखकर नहीं लगता कि ये दिक्कत कायम है। मैं उसके लिए खुश हूं कि उसकी मेहनत रंग ला रही है। कुलदीप की इस सफलता पर रोवर्स मैदान पर जश्न होगा।

हैट्रिक के ये हैं रिकॉर्ड -हैट्रिक लेने का सबसे पहला मौका पाकिस्तानी गेंदबाज जलालुद्दीन को मिला था, जिन्होंने 20 सितंबर 1982 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार 3 विकेट चटकाए थे। -श्रीलंकाई पेसर लसिथ मलिंगा ने 2007 गुयाना में लगातार चार गेंदों पर चार विकेट चटकाए थे, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। -पाकिस्तान के आकिब जावेद 19 साल 81 दिन की उम्र में हैट्रिक लेने वाले यंगेस्ट बॉलर थे।

1 views
Used tags: , , ,

News Posted On Facebook

Yeh Hai Kanpur

Business News

kanpur Dehat News

Kanpur News in Urdu